श्रावस्ती-बलरामपुर-बहराइच के आर.टी.ओ R.T.O अधिकारी ही सबसे बड़े खनन माफिया एवं घूसखोर: असलम राईनी

उत्तर प्रदेश में मोरंग और गिट्टी का अकाल बताते हुए भिनगा विधायक ने जनपद श्रावस्ती- बलरामपुर-बहराइच-बाराबंकी- लखनऊ-उन्नाव एवं हमीरपुर के आर.टी.ओ (R.T.O) अधिकारी पर लगाया भ्रष्टाचार एवं घूसखोरी का आरोप

विधायक असलम राईनी का कहना है कि उत्तर प्रदेश की जनता को मोरंग उपलब्ध नहीं करा पा रही है और पूरे प्रदेश में अकाल पड़ा हुआ है इस गंभीर प्रक्रमण में निम्नलिखित जनपदों के आर.टी.ओ R.T.O की अहम भूमिका एवं घूसखोरी ही सबसे बड़ा कारण है मोरंग के अभाव का उत्तर प्रदेश के मुख्य खनन अधिकारी एवं सहायक खनन अधिकारी और सभी जनपदों के खनन अधिकारियों को विधायक असलम राईनी ने बताया सबसे बड़ा खनन माफिया आज दिनांक 14/02/2020 को उत्तर प्रदेश विधानसभा में बजट सत्र के दौरान बसपा विधायक असलम राईनी ने अवैध खनन एवं मोरंग के अभाव का मुद्दा जोरदार तरीके से सदन में उठाया विधायक के इस महत्वपूर्ण मुद्दे को विपक्ष के सभी पार्टियों के विधायकों ने समर्थन दिया और कुछ ही देर बाद सदन में अवैध खनन के मुद्दे को लेकर काफी हंगामा हुआ जिस पर विधानसभा अध्यक्ष को सदन स्थगित भी करना पड़ा विधायक असलम राईनी ने उत्तर प्रदेश सरकार पर आरोप लगाते हुए विधानसभा अध्यक्ष जी से कहा कि वर्ष 2017 से पहले मोरंग की कीमत ₹40 sq ft थी और आज भ्रष्ट आर.टी.ओ R.T.O के कारण ही मोरंग की कीमत ₹90 हो गई है। 

क्या सरकार? ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों पर कार्रवाई करते हुए जेल भेजेगी

विधायक के इस महत्वपूर्ण पहल पर विपक्ष पार्टी के सभी विधायकों ने सदन का बहिष्कार भी किया और इस गंभीर विषय को लेकर सरकार को चेतावनी देते हुए सचिव स्तर एवं एस.आई.टी S.I.T की जांच कराने की मांग सभी विधायकों ने की विधायक असलम राईनी के इस गंभीर मुद्दे पर एवं विपक्ष के सभी विधायकों का समर्थन प्राप्त होने के बाद विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित जी ने एवं आज के सदन के कार्यवाहक मुख्यमंत्री सुरेश खन्ना जी ने मामले की जांच कराकर दोषियों पर कार्रवाई का पूर्ण आश्वासन दिया है.