ईद उल अजहा को लेकर एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने दिशा निर्देश जारी किया। जिसमें ईद के मौके पर न तो सड़क पर नमाज और न ही कुर्बानी को लेकर निर्देश दिए गए है। इतना ही नहीं सड़क पर कुर्बानी का मामला सामने आने पर पुलिस द्वारा त्वरीत कार्रवाई करते हुए केस दर्ज भी किया जाएगा। आज ईद के खास मौके पर कोरोना गाइडलाइन का पालन कराने के साथ-साथ सुरक्षा व्यवस्था के लिए फोर्स और बीएसएफ की भी तैनाती की गई है। साथ ही ड्रोन के जरिए भी निगरानी की जा रही है। जिले में सभी सीओ अपने क्षेत्र में भ्रमण पर रहते हुए व्यवस्था पर भी निगरानी बनाए रखेंगे। इसके अलावा किसी भी स्थिति से निपटने के लिए अतिरिक्त फोर्स को तैनात किया गया है।

भारी सुरक्षा बलों की तैनाती

एसएसपी मेरठ प्रभाकर चौधरी ने न तो सड़क पर नमाज होगी और न ही कुर्बानी करने के साथ-साथ लोगों से अपील है कि घर पर ही नमाज अदा करें। मस्जिद जाने वाले लोगों को भी कोविड नियमों का पालन करने और 50-50 की संख्या में ही मौजूद रहने की अनुमति मिली है। इसके अलावा सभी थाना प्रभारियों को व्यवस्था बनाने के लिए लगाया गया है। बताया कि शहर को 14 जोन और 30 सेक्टर में बांटा गया है। 2 कंपनी पीएसी और 1 कंपनी बीएएफ को लगाया गया है। पुलिस लाइन से 300 रंगरूट सिपाही भी फिल्ड में रहेंगे। वहीं थानों और पुलिस ऑफिस का फोर्स भी ड्यूटी पर रहेगा। सभी सीओ और इंस्पेक्टर अपने क्षेत्र में भ्रमण करेंगे और व्यवस्था खुद देखेंगे।

सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिए

कहीं पर भी सड़क पर उत्पात न हो साथ ही कोई स्टंटबाजी करता मिले या हुडदंग करें तो तुरंत कार्रवाई की जाए। इस दौरान ड्रोन से भी निगरानी की जाएगी। सीसीटीवी कैमरों से भी पुलिस कंट्रोल रूम से पुलिस निगरानी रखेगी।