कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वाले पुलिसकर्मियों के परिवार के लिए महाराष्ट्र सरकार ने बड़ा ऐलान किया है। बता दें कि शुक्रवार को राज्य सरकार में गृह मंत्री अनिल देशमुख ने जानकारी दी कि कोरोना के कारण जान गंवाने वाले पुलिसकर्मियों के परिवार को 65 लाख मुआवजे के तौर पर दिए जाएंगें इसके साथ ही उनके परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी दी जाएगी।

जानिए पूरा मामला

कोरोना संकट काल में फ्रंटलाइन में ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मी भी कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। बता दें कि महाराष्ट्र राज्य में तो सबसे ज्यादा पुलिसकर्मी कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। वहीं यहा कई पुलिसकर्मियों की कोरोना के कारण मौत भी हो चुकी है। ऐसे में कोरोना के कारण जान गंवाने वाले इन योद्धाओं के परिवारों की चिंता करते हुए महाराष्ट्र राज्य सरकार ने बड़ा ऐलान किया है। बता दें कि महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने शुक्रवार को कहा कि राज्य में कोरोना संक्रमण के कारण जान गंवाने वाले हर पुलिसकर्मी के परिवार को 65-65 लाख रूपए की मदद की जाएगी। इसके साथ ही उन्होने कहा कि संक्रमण के कारण मारे गए हर पुलिसकर्मी के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी दी जाएगी। 

अब तक 31 पुलिसकर्मियों की हो चुकी है मौत

गौरतलब है कि राज्य में गुरूवार तक कोरोना संक्रमण के कारण 31 पुलिसकर्मियों की मौत हो चुकी है और राज्‍य में कुल 2,561 पुलिसकर्मी इस महामारी का शिकार हो चुके है। वहीं आपको बता दें कि महाराष्ट्र में शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 2,436 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमण के कुल मामलों का आंकड़ा बढ़कर 80,229 पहुंच गया। स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी। इसके अलावा राज्य में कोरोना वायरस से 139 और लोगों की मौत के साथ ही इस महामारी से राज्य में मरने वालों की संख्या 2,849 हो गई है। शुक्रवार को 1475 मरीजों को संक्रमण से उबरने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। राज्य में अब तक कुल 35,156 लोग इस संक्रमण से उबर चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग ने बयान जारी कर कहा कि राज्य में अब कुल 42,224 मरीज उपचाराधीन हैं। अब तक कुल 5,22,946 लोगों की जांच की जा चुकी है।