गोरखपुर पैदल गश्‍त पर निकले एडीजी अखिल कुमार गोरखनाथ थाना क्षेत्र में व्यापारियों और कुछ ठेले वालों से मिले। उन्‍होंने व्‍यापारियों से उनकी समस्‍याएं जानीं। सड़क पर ठेले पर अंडा बेच रहे एक दुकानदार से उन्‍होंने पूछा कि आपका थानेदार कैसा है ? सिपाही रिश्‍वत तो नहीं मांगते हैं ? ठेलेवाले ने नहीं में उत्‍तर दिया।

उनसे पुलिस के विषय में जानकारी ली। पूछा पुलिस उनकी समस्याएं सुनती है अथवा नहीं। बीट कांस्टेबल उनसे संपर्क करता है अथवा नहीं। इससे पूर्व वह तिवारीपुर में आयोजित संत रविदास जयंती समारोह में शामिल हुए। जयंती में एडीजी ने कहा कि शिक्षा के जरिये समाज में अपना स्थान प्राप्त किया जा सकता है। थानेदार कैसा है, बीट सिपाही मिलने आता है या नहीं।

आइजी व डीआइजी ने सुनी फरियाद : गोरखपुर के विभिन्न थानों पर आयोजित समाधान दिवसों में एडीजी जोन अखिल कुमार, आइजी रेंज राजेश मोदक, डीआइजी/एसएसपी जोगेंद्र कुमार भी पहुंचे। उन्होंने फरियादियों की समस्याएं सुनी और उसके निस्तारण का भी निर्देश दिया। राजस्व संबंधित मामलों के निस्तारण के लिए मौके पर टीम भेजी गई। एडीजी ने चिलुआताल थाने के प्रभारी निरीक्षक को निर्देशित किया कि वह थाने में पिंक टायलेट का निर्माण कराएं। ताकि फरियादियों को कोई कठिनाई ना हो।

रिपोर्ट - हेमंत कुमार दूबे