कोरोना संकट के दौरान पुलिसकर्मी अपनी परवाह किए बिना लॉकडाउन का पालन कराने के साथ ही आमजन की हर संभव मदद भी कर रहे हैं। बता दें कि इस मुश्किल घड़ी में पुलिसकर्मियों के मानवीय कार्यों ने आमजनता के दिल को छू लिया है। पुलिसकर्मियों की मानवता का ऐसा ही वाकया गुजरात के अहमदाबाद से सामने आया है। बता दें कि यहां खाकीवालों ने एक बुजुर्ग महिला की जिस तरीके से मदद की उसकी हर कोई प्रशंसा कर रहा है।

जानिए पूरा मामला

मामला गुजरात के अहमदाबाद का है। दरअसल यहां पुलिसकर्मी लोगों को माइक लेकर समझा रही थी कि वे अपने-अपने घरों में ही रहे। इसी दौरान पुलिस ने एक बुजुर्गा को खिड़की से झांकते हुए देखा। पुलिसकर्मी ने माइक से वृद्धा को आवाज दी और घर में ही रहने के लिए कहा। लेकिन इस दौरान वृद्धा ने पुलिसकर्मी को अपनी मजबूरी बताई। बुजुर्ग महिला की तकलीफ जानकर पुलिसकर्मी का दिल पसीज गया और फिर उन्होने वृद्धा को कहा कि थोड़ा बाहर निकलिए। देखिए आपके दरवाजे पर 500 रुपए पड़े हैं।

पुलिसकर्मी की लोगों ने जमकर की प्रशंसा

पुलिसकर्मी के बहुत जोर देने पर बुजुर्ग महिला घर से बाहर निकली तो उसने देखा कि सच में 500 का नोट पड़ा था। वृद्धा को लगा कि यह नोट पहले से ही पड़ा है। लेकिन बता दें कि उस नोट को पुलिसकर्मी ने चुपके से खुद अपनी जेब से निकालकर वहां डाला था, ताकि बुजुर्ग महिला अपनी जरूरत का सामान ला सके। लेकिन पुलिसकर्मी ने वृद्धा को जरा भी ये महसूस नहीं होने दिया कि 500 का नोट उन्होने ही डाला है। वहीं पुलिसकर्मी द्वारा वृद्धा को इस तरीके से मदद ​मुहैया कराए जाने पर आस-पड़ोस के लोग उनकी प्रशंसा करने लगे। बाहर खड़े लोगों ने तालियां भी बजाईं।