पाकिस्तान (Pakistan) की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) के लिए जासूसी करने के आरोप में हबीब खान की गिरफ्तारी के बाद अब हरियाणा (Haryana) की पलवल पुलिस ने एक पुलिस कांस्टेबल (Constable) को भी आईएसआई के लिए जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी पहले सेना में ही था और साल 2019 में रिटायर होने के बाद एक्स सर्विसमैन कोटे से हरियाणा पुलिस में भर्ती हुआ था।

जानकारी के अनुसार, आरोपी कांस्टेबल की पहचान अंबाला जिले के निवासी सुरेंद्र के रूप में हुई है। वह बोह गांव का रहने वाला है और जिला पुलिस कार्यालय में गार्ड की ड्यूटी पर तैनात था। पुलिस ने उसके पास से 2 मोबाइल फोन जब्त किये हैं। आरोपी कांस्टेबल व्हाट्सएप के जरिए भारतीय सेना से संबंधित खुफिया सूचनाएं पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई को दे रहा था।

बताया जाता है कि आरोपी सुरेंद्र फेसबुक के जरिए पाकिस्तान की किसी लड़की के संपर्क में था। पूछताछ में पता चला है कि आरोपी सुरेंद्र 2018 से ही सेना के सीक्रेट्स दुश्मन देश को बेच रहा था। इसके बदले में आईएसआई ने उसे अब तक 70 हजार रुपए दिए हैं। फिलहाल, पुलिस ने आरोपी कांस्टेबल के जब्त किए गए फोन को साइबर टीम के पास भेजा है, ताकि पाकिस्तानी महिला के साथ की गई बातचीत का पता लगाया जा सके और अन्य डाटा को भी रिकवर किया जा सके।

इस मामले में पलवल जिले के एसपी दीपक गहलावत ने बताया कि मामले की गहनता से जांच की जा रही है। पूछताछ के बाद पता चलेगा कि आरोपी ने अभी तक कितनी और किस तरह की सूचनाएं पाकिस्तान को दी हैं और उसकी भविष्य की क्या योजनाएं थीं? एसपी गहलावत ने बताया कि आरोपी सुरेंद्र को भारतीय सेना के हवाले करने संबंधी उन्हें अभी तक कोई आदेश नहीं मिला है और अगर भविष्य में इस तरह का आदेश मिलता है तो उसका पालन किया जाएगा।