शाहजहांपुर ›  जोधपुर नवदिया गांव में कोरोना संक्रमित ग्रामीण को लेने पहुंची एंबुलेंस पर ग्रामीणों ने पथराव कर दिया। ग्रामीणों ने एंबुलेंस चालक के साथ जमकर मारपीट की। स्वास्थ्य विभाग की टीम भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल की। एंबुलेंस चालक ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।

सीएचसी चिकित्साधीक्षक डा.कमरुज्जमा ने बताया कि रविवार को जोधपुर नवदिया गांव में कोरोना संक्रमित को लेने के लिए चालक सुचित सिंह और ईएमटी सोनू मिश्र के साथ एंबुलेंस गई थी। उन्होंने बताया कि बुलाने पर संक्रमित ग्रामीण नहीं आया। आरोप है कि कुछ देर बाद संक्रमित ग्रामीण 15-20 साथियों के साथ एंबुलेंस के पास आया और उन्होंने पथराव कर दिया। डा.कमरुज्जमा ने बताया कि एंबुलेंस चालक तथा एंबुलेंस में पहले से सवार एक कोरोना संक्रमित व्यक्ति ने अपनी भागकर बमुश्किल जान बचाई।

सुचित व सोनू का आरोप है कि आरोपियों ने इसके बाद उनके साथ मारपीट की और जान से मारने की धमकी दी। सूचना पर स्वास्थ्य विभाग की टीम भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंची। कोतवाल दीपक शुक्ला ने आरोपियों को पकड़ने के लिए दबिश दी, लेकिन आरोपी गांव से फरार हो गए। कोतवाल ने बताया कि एंबुलेंस चालक सुचित व सोनू मिश्रा की ओर से श्रीपाल, कुसमेन्द्र यादव, देवेंद्र, बादाम, जगदीश व 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।

संक्रमित ग्रामीण ने स्वास्थ्य टीम के साथ अभद्रता की है उसकी रिपोर्ट अधिकारियों को भेज दी गई है। स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव जाने से डर रही है। सरकारी काम में बाधा डालने तथा कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन न करने के मामले में मुकदमा दर्ज कराया गया है।

रिपोर्ट - @Shiva Nand Shukla