देश में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुये लॉकडाउन -3.0 का भी ऐलान कर दिया गया है। वहीं कोरोना के बढ़ते खतरे के बावजूद कुछ लोग लॉकडाउन के नियमों को तोड़ने से बाज नहीं आ रहे हैं। ताजा मामला उत्तर प्रदेश के सहारनपुर का है। बता दें कि यहां मना करने के बावजूद एक मस्जिद में लॉकडाउन का उल्लंघन कर सामूहिक नमाज अदा की जा रही थी। वहीं पुलिस ने इस मामले में 15 लोगों को गिरफ्तार कर दिया है।

जानिए पूरा मामला

उत्तर प्रदेश में योगी सरकरा लगातार कोरोना संक्रमण से लोगों की जिंदगियों को सुरक्षित रखने के लिए नित नई योजनाओं पर काम कर रही है। इस दौरान पुलिस को भी सख्त आदेश दिए गए हैं कि सोशल डिस्टेंसिंग और लॉक डाउन का शत-प्रतिशत पालन करवाया जाए। लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए भी कुछ लोग मनमानी कर रहे हैं और लॉकडाउन की जमकर धज्जियां उड़ा रहे हैं। बता दें कि उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में भी एक मस्जिद में सामूहिक नमाज अदा की गई। वहीं पुलिस को जब इस बारे में शिकायत मिली तो मौके पर पहुंची थाना नागल की पुलिस ने 15 लोगों को गिरफ्तार कर लिया जबकि अन्य फरार हो गए।

सामूहिक रूप से मस्जिद में 

वहीं सहारनपुर के एसपी (देहात) विद्यासागर मिश्रा ने बताया कि जिले में सभी को यह आगाह किया गया है कि कोई भी सामूहिक रूप से मस्जिद में नमाज नहीं पढ़ेगा, क्योंकि इससे लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का उल्लंघन होता है। सोशल डिस्टेंसिंग न होने से कोरोना वायरस फैलने का खतरा भी बढ़ जाता है. चेतावनी के बावजूद एक मस्जिद में सामूहिक नमाज हो रही थी। जिसकी सूचना मिलने पर थाना नागल पुलिस उक्त मस्जिद पहुंची और वहां 15 लोगो को सामूहिक रूप से नमाज पढऩे के आरोप मे गिरफ्तार कर लिया। एसपी ने जानकारी दी कि इन लोगों के विरूद्ध लॉकडाउन का उल्लंघन और महामारी अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई है। एसपी ने बताया कि कुछ लोग पुलिस के आने से पहले वहां से भाग निकले। उनकी भी पहचान कराई जा रही है।


  • रिपोर्ट - चंदू शर्मा