उत्तर प्रदेश की सुल्तानपुर जिला जेल से मंगलवार को जमानत पर छूटने के बाद आम आदमी पार्टी (आप) से विधायक सोमनाथ भारती (somnath bharti) ने योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा। आप विधायक ने कहा कि वह आज भी अपने बयान पर कायम हैं। सोमनाथ भारती ने कहा कि जो मैंने अमेठी में बयान दिया था, उसका इंटरपिटेशन गलत है।

आप विधायक सोमनाथ भारती ने कहा कि सिद्धार्थ नाथ सिंह उत्तर प्रदेश के मंत्री हैं, उनके विधानसभा में प्राइमरी हेल्थ सेंटर है। इसे जनता की सेवा के लिए बनाया गया, लेकिन जब वहां जाया गया तो पहले कमरे में ही एक कुत्ते के 8 बच्चे वहां थे। इसका वीडियो भी मैंने जारी किया है। इस वीडियो के जरिए मैंने उस बदहाली की तरफ इशरा किया कि जो मेडिकल सुविधाएं योगी सरकार द्वारा जनता को उपलब्ध करानी चाहिए थी, वह उपलब्ध नहीं करा पा रहे हैं।

सोमनाथ भारती ने कहा कि जिन अस्पतालो में सुचारू रूप से काम चलने चाहिए थे, इंसानों के बच्चे आने चाहिए थे वो नहीं हो पा रहा। अस्पताल इस बदहाली में है, वहां पर ना डॉक्टर है न कोई है। वहां पर आज उस बिल्डिंग में कुत्ते के बच्चे पैदा हो रहे हैं। मैं तो बदहाली और नाकामी की तरफ इशारा कर रहा हूं, उसको तूल देना ये तो भाजपा की नाकामी है।

सोमनाथ भारती ने कहा कि भारत के संविधान ने सभी राजनीतिक दलों को एक दूसरे के कृत्यों को जनता के सामने रखने का अधिकार दे रखा है। दिल्ली के केजरीवाल मॉडल को लेकर आम आदमी पार्टी यहां चुनाव प्रचार कर रही है। प्रचार के दौरान दिल्ली और यूपी के कार्यों का आकलन कर उसे जनता के सामने प्रस्तुत किया जा रहा है।

इस दौरान उन्होंने कहा कि सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आग्रह है कि राजनीतिक लड़ाई राजनीतिक रूप से लड़ें। झूठी एफआईआर और पुलिस का सहारा ना लें। उन्होंने कहा कि कार्य करने के बजाय यहां सिस्टम का दुरुपयोग करके राजनीती का जवाब दिया जा रहा है।

रिपोर्ट - संतोष मिश्र