उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) सरकार लगातार ऑपरेशन माफिया चला रही है. इसी कड़ी में बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी ( Mukhtar Ansari) पर बड़ी कार्यवाई की गई है. गाजीपुर (Ghazipur) में मुख्तार के निर्माणाधीन शॉपिंग कॉम्प्लेक्स (Shopping Complex) को कुर्क कर दिया गया. मुख्तार की पत्नी अफशा अंसारी (Afsa Ansari) के नाम निर्माणाधीन शॉपिंग कॉम्प्लेक्स था. कार्रवाई करते हुए पुलिस और प्रशासन ने 2.84 करोड़ की संपत्ति को कुर्क किया है. यह कॉम्प्लेक्स शहर के लाल दरवाजा क्षेत्र में स्थित है.

 

पुलिस और राजस्व विभाग की संयुक्त टीम ने मंगलवार दोपहर लाल दरवाजा में मुख्तार अंसारी की पत्नी अफशां अंसारी के नाम पर निर्माणाधीन शॉपिंग कॉम्प्लेक्स को कुर्क कर लिया. सीओ सिटी ओजस्वी चावला ने बताया कि मुख्तार अंसारी का नाम पुलिस रिकॉर्ड में आईएस 191 के गैंग लीडर के तौर पर दर्ज है.

 

जिलाधिकारी के आदेश के अनुपालन में अफशां अंसारी के नाम पर निर्माणाधीन शॉपिंग कॉम्प्लेक्स को कुर्क किया गया है. पीडब्ल्यूडी की रिपोर्ट के अनुसार निर्माधीन कॉम्प्लेक्स की कीमत 2.84 करोड़ आंकी गई है. पुलिस ने मंगलवार दोपहर कुर्की से पहले निर्माणाधीन कॉम्प्लेक्स परिसर में मुनादी करवा कुर्की की कार्रवाई की जानकारी सार्वजनिक की.

 

कार्रवाई की जानकारी देते हुए सीओ सदर ओजस्वी चावला ने बताया कि प्रदेश में माफियाओं के खिलाफ चल रहे अभियान के तहत जिलाधिकारी एमपी सिंह के आदेश पर गैंगस्टर एक्ट की धारा में कुर्क करने कार्रवाई की गई. कार्रवाई गैंग के लीडर मुख्तार अंसारी की पत्नी मुहम्मदाबाद कोतवाली क्षेत्र के दर्जी मोहल्ला निवासी आफसा अंसारी के खिलाफ हुई है. यह कॉम्प्लेक्स सदर कोतवाली ड्योढी बल्लभदास मोहल्ले में 32 रकबा 1150 वर्ग मीटर भूमि में बन रहा था. कार्रवाई के दौरान सदर कोतवाल दीपेंद्र सिंह, सदर एसडीएम अनिरुद्ध प्रताप सिंह, नायब तहसीलदार सहित अन्य अधिकारी और पुलिसकर्मी मौजूद थे.