ठाणे । महाराष्ट्र भाजपा के प्रवक्ता माधव भंडारी ने राज्य में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों पर चिंता जताई है। साथ ही दोषियों के लिए सख्त सजा की मांग की। दरअसल, वह 25 वर्षीय लेक्चरर अंकिता पिसुड्डे की मौत पर शोक जताने के लिए एक एनजीओ द्वारा आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे। बता दें ‎कि अंकिता को पिछले सप्ताह वर्धा जिले में एक व्यक्ति ने आग लगा दी थी। इसके बाद झुलसी अं‎किता की नागपुर के एक अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। इसके अलावा औरंगाबाद जिले में पिछले सप्ताह एक 50 वर्षीय दलित महिला को एक व्यक्ति ने तब आग लगा दी, जब महिला ने उसे घर में घुसने से रोका था। उसकी तीन दिन बाद मौत हो गई। भंडारी ने आगे कहा ‎कि "हाल फिलहाल में ऐसी तीन से चार घटनाएं हुई खासतौर से पिछले सात से आठ दिनों में, जो चिंता का विषय है।" इन अपराधों को देखते हुए उन्होंने दोषियों के लिए सख्त सजा की मांग की। उन्होंने कहा कि सरकार और समाज राज्य में ऐसे अपराधों पर लगाम लगाने में नाकाम रहे। भाजपा नेता ने कहा कि ऐसे मामलों से निपटने के लिए सख्त कानूनों और त्वरित अदालतों के बावजूद दोषियों को बचाने की कोशिशें की जा रही है जो खतरनाक है। उन्होंने कहा कि ऐसे अपराधियों को बचाने के लिए कानून का दुरुपयोग रोकने की सख्त जरूरत है। दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा की हार पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की टिप्पणियों के बारे में पूछे जाने पर भंडारी ने जवाब देने से इनकार कर दिया है।