लखनऊ | लखनऊ में भाजपा सांसद कौशल किशोर के बेटे आयुष किशोर (30) पर मंगलवार देर रात हुई फायरिंग में नया ट्विस्ट आ गया है। पुलिस ने दावा किया है कि आयुष ने कुछ लोगों को फंसाने के लिए अपने साले आदर्श से अपने ऊपर फायरिंग करवाई थी। पुलिस आदर्श को भी हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

पुलिस के मुताबिक, शुरुआती पूछताछ में आदर्श ने बताया कि किसी को फंसाने की साजिश थी। हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं हुआ कि वे कौन लोग हैं जिन्हें आयुष फंसाना चाहता था। आदर्श ने कहा- 'मुझे नहीं पता कि किसे फंसाने की साजिश थी, लेकिन आयुष ने कहा था कि 4-5 लोग हैं। मैंने आगे से गोली मारी थी।' आदर्श के पास एक लाइसेंसी रिवॉल्वर था, जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया है।

लखनऊ पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने कहा कि यह घटना मंगलवार रात के करीब 2:10 बजे हुई। पहले बताया गया कि सांसद के बेटे पर कुछ अज्ञात हमलावरों ने गोली चलाई, अब तक की तहकीकात में पता चला है कि सांसद के बेटे के कहने पर उसके साले ने गोली चलाई। उन्होंने बताया कि जिस पिस्टल से गोली चली थी, उसे पुलिस ने रिकवर कर लिया है।

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि पिछले साल सांसद के बेटे ने लव मैरिज किया था, उसके बाद से वह अपने पिता से अलग रह रहे थे। घटना को लेकर अभी तहकीकात जारी है।

बीजेपी सांसद कौशल किशोर ने इस मामले में कोई भी जानकारी होने से इनकार किया है। उन्होंने बताया कि यह कहा जा रहा है कि जब वारदात हुई तो आयुष का साला साथ में था। उन्होंने बताय कि आयुष ने लव मैरिज की थी,  इसलिए हमने उससे नाता तोड़ दिया था। उसने आत्महत्या की धमकी दी थी।

गौरतलब है कि मंगलवार देर रात आयुष को सीने में गोली मारी गई थी। हालंकि, उनकी स्थिति खतरे से बाहर बताई जा रही है।  सूचना मिलने पर सांसद कौशल किशोर और पुलिस के आला अधिकारी ट्रॉमा सेंटर पहुंचे थे। आगे  जांच की गई तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ।