नई दिल्ली । केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल मुलाकात की। हालांकि यह एक औपचारिक मुलाकात थी। सीएम केजरीवाल ने बैठक के बाद इस बैठक की जानकारी खुद ट्विटर पर दी। वहीं इसके बाद केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस की जिसमें बताया कि उनकी सरकार गारंटी कार्ड में दी गई गारंटी को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है और उस पर तेजी से काम कर रही है। केजरीवाल ने कहा कि 24 फरवरी से तीन दिन के लिए विधानसभा सत्र बुलाई गई है जिसमें जनता से किए वादों को पूरा करने के लिए रोडमैप तैयार किया जाएगा। जब केजरीवाल से पानी की समस्या के बारे में पूछा तो वो बोले कि पिछले दो सालों में गर्मियों में पानी की समस्या कम हुई है, हम इस पर काम कर रहे हैं। आने वाले पांच सालों में हर घर में टोटी से पानी आने लगेगा। केजरीवाल ने अमित शाह से मिलने के बाद एक ट्वीट में लिखा है कि गृहमंत्री अमित शाह के साथ बैठक हुई जो बहुत अच्छी व फलदायक रही। हमने कई मुद्दों पर बातचीत की। दोनों में इस बात की सहमति बनी है कि दिल्ली के विकास के लिए हम साथ मिलकर काम करेंगे। दिल्ली का मुख्यमंत्री बनने के बाद केजरीवाल की गृह मंत्री के साथ यह पहली बैठक दोपहर दो बजकर 30 मिनट पर गृह मंत्रालय के कार्यालय में हुई। सूत्रों ने बताया कि यह ‘शिष्टाचार’ बैठक है। शाह ने विधानसभा चुनाव के दौरान केजरीवाल पर आक्रामक निशाना साधा था। इन चुनावों में हालांकि भाजपा सिर्फ 8 सीटें ही जीत पाई और आम आदमी पार्टी के खाते में 62 सीटें आईं। दिल्ली विधानसभा में 70 सीटें हैं।


उपराज्यपाल से मिले थे केजरीवाल
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल से मुलाकात की। राजनिवास पर दोनों के बीच दिल्ली को बेहतर बनाने पर चर्चा हुई। अधिकारियों का कहना है नई सरकार की कैबिनेट बैठक से एक दिन पहले हुई इस मुलाकात के दौरान विधानसभा सत्र बुलाने से जुड़ी औपचारिकताओं पर बातचीत की। दिल्ली की नई सरकार कामकाज संभालते ही एक्शन मोड में आ गई है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का फोकस चुनाव के दौरान जारी किए गए गारंटी कार्ड पर है। इस बारे में उन्होंने उच्च स्तरीय बैठक बुलाई है। इसमें आम आदमी पार्टी (आप) की तरफ से दी गई दस गारंटी की कार्ययोजना पर चर्चा होगी। छात्रों की मुफ्त बस यात्रा, 24 घंटे पानी की सप्लाई, यमुना नदी की सफाई और मोहल्ला मार्शल की तैनाती पर खास फोकस रहेगा। दरअसल, दिल्ली चुनाव के दौरान अरविंद केजरीवाल ने सरकार बनने के बाद किए जाने वाले कामों से जुड़ा गांरटी कार्ड जारी किया था। इसमें पहले से चली आ रही योजनाओं से छेड़छाड़ न करने के साथ तीन नए कामों को भी जोड़ा गया था। आप ने कहा था कि सरकार बनने पर वह छात्रों की बस यात्रा मुफ्त करेंगे। वहीं, बस मार्शल की तरह मोहल्ला मार्शल की भी तैनाती होगी। जबकि दिल्ली में 24 घंटे तक पानी की आपूर्ति सुनिश्चित करनी है। इसके अलावा यमुना को स्वच्छ करने के साथ दिल्ली को कूड़ा मुक्त भी करना है। अधिकारियों का कहना है कि सरकार बनने के बाद  केजरीवाल की पहली प्राथमिकता गारंटी कार्ड को लागू करना है।