उत्तर प्रदेश के कासगंज (Kasganj) जनपद में बलात्कार का सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां एक महिला को कपड़े दिलाने के बहाने बुलाकर रेप की वारदात को अंजाम दिया गया। वहीं, पीड़िता द्वारा शिकायत करने के 24 घंटे के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। लेकिन मामला मीडिया में आने पर पुलिस हरकत में आई और पीड़िता के तहरीर के आधार पर आरोपी कामरान अहमद (Kamran Ahmed) उर्फ गोलू के खिलाफ धारा 376 में मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।

सूत्रों ने बताया कि मामला कासगंज के कोतवाली पटियाली क्षेत्र का है। यहां पर एटा की रहने वाली महिला के साथ एक युवक ने धोखे से बलात्कार की घटना को अंजाम दिया है। महिला की जान पहचान पटियाली नगर में स्थित कपड़े की दुकान करने वाले कामरान अहमद उर्फ गोलू से हुई थी। धीरे-धीरे पहचान दोस्ती में बदल गई।

इसके बाद 28 अक्टूबर को को आरोपी युवक कामरान अहमद उर्फ गोलू ने महिला को कपड़े दिलाने के बहाने अपनी दुकान पर बुलाया और अपनी गाड़ी में बिठाकर कहीं जाने के लिए कहा। इसके बाद कामरान ने महिला को सुनसान कमरे में ले जाकर रेप की घटना को अंजाम दिया और वापस पटियाली के पास रास्ते में छोड़कर फरार हो गया।

पीड़िता ने इसकी सूचना कोतवाली में दी और न्याय की गुहार लगाई, लेकिन कोतवाली में मौजूद कोतवाल ने उनकी एक न सुनी। ऐसे में महिला दोबारा से थाने पहुंची। वहीं, ये मामला जब मीडिया में पहुंचा तो आनन- फानन में पुलिस ने महिला की तहरीर पर आरोपी युवक के खिलाफ धारा 376 में मामला दर्ज कर आरोपी कामरान अहमद को गिरफ्तार कर लिया।

रिपोर्ट -  हेमंत कुमार दूबे