मैनपुरी जिले में तैनात एक दरोगा की तबियत बिगड़ने के बाद मौत हो गयी. दरअसल, महर्षि मार्कंडेय के मेले में ड्यूटी के दौरान ही दरोगा की तबियत बिगड़ी थी. जिसके बाद उन्हें तत्काल ही आगरा रेफर किया गया. जब वहां भी उनकी हालत में कोई सुधार नहीं हुआ तो उन्हें दिल्ली रेफर किया गया. जहाँ सोमवार को उनकी मृत्यु हो गयी. दरोगा के निधन से पूरे थाने में शोक की लहर दौड़ गयी. 

इलाज के दौरान हुआ निधन

जानकारी के मुताबिक, दरोगा संजय कुमार पुत्र रामस्वरूप निवासी बुनगोल थाना बरहन जनपद आगरा को मैनपुरी जिले के बरनाहल थाने में तैनात थे. हाल ही में घिरोर थाना क्षेत्र के ग्राम बिधूना में महर्षि मार्कंडेय के मेले का आयोजन किया गया था इस मेले में संजय की ड्यूटी लगाई गई थी. इसी मेले में 23 नवंबर को अचानक ड्यूटी करते समय उनकी तबीयत खराब हुई तो उन्हें आगरा ले जाया गया. हालत में सुधार न होने पर उन्हें दिल्ली ले जाया गया. जहां सोमवार की रात 12 बजे के करीब उनकी मौत हो गई. निधन की वजह ब्रेन हेमरेज बताई जा रही है. दरोगा के निधन की खबर से बरनाहल थाने में शोक की लहर दौड़ गयी. जिसके बाद वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने दो मिनट का मौन रखकर मृत आत्मा की शांति के लिए शोक जताया. बता दें कि दरोगा 20 जून 2020 को बरनाहल थाने में तैनात थे.