फिल्म आदिपुरुष (Adipurush) का टीजर देखने के बाद लोगों ने इसका विरोध करना शुरू कर दिया है। वजह है इस फिल्म में रावण (Ravana Getup) के किरदार में नजर आ रहे एक्टर सैफ अली खान का गेटअप। वहीं, यूपी के डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक (Deputy CM Brajesh Pathak) ने भी फिल्म में रावण के गेटअप को लेकर तीखी प्रतिक्रिया दी है। वहीं, भाजपा सांसद साक्षी महाराज (BJP MP Sakshi Maharaj) ने यह कहा है कि रावण को खिलजी के रूप में दिखाने का प्रयास किया गया है, जो बेहद निंदनीय है।

हिंदू संस्कृति पर हो रहा हमला

उप मुख्यमंत्री ने आदिपुरुष में रावण के गेटअप को लेकर कहा कि हिंदू सभ्यता और भारत की संस्कृति में भगवान राम जन-जन में बसे हुए हैं। यह काफी समय से चल रहा है कि हिंदू समाज पर फिल्मों के जरिए आक्रमण किया जा रहा है। यह बिल्कुल गलत है, मैं इसकी निंदा करता हूं।

उन्होंने कहा कि फिल्मों में और नाटकों में हिंदू संस्कृति पर लगातार हमला हो रहा है। रावण के इस गेटअप को बदला जाना चाहिए। रावण जरूर अत्याचारी था पर यह हिंदुओं की भावनाओ से खिलवाड़ है। भोलेनाथ पर जो दूध पुष्प चढ़ाएं जाते हैं उस पर भी सवाल किया गया था, यह सब गलत है।

यही नहीं हनुमान जी के गेटअप पर भी डिप्टी सीएम ने कहा कि लगातार हमारी संस्कृति को डिस्टर्ब और बदलने का प्रयास हो रहा है। हमारी संस्कृति विरासत पर हमें गर्व है। वहीं, संत समाज के आक्रोश पर उन्होंने कहा कि संत समाज हिंदू समाज की रक्षा के लिए है। आदि काल में शंकराचार्य पीठों की स्थापना हुई, जब हमले हुए तब भी इन्होंने आखड़ों से हमारी संस्कृति को चलाया है। संत समाज ने जो कहा है उसपर ध्यान देने की जरूरत है।

भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने कही ये बात

उधर भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में जो खान बंधु हैं कुछ इसमें सेक्युलर हिंदू, इन्होंने हिंदू-देवी देवताओं का बहुत ही भद्दा मजाक उड़ाया है। आदिपुरुष फिल्म में भारतीय संस्कृति का मजाक उड़ाया गया। रावण का किरदार निभाने वाले को खिलजी रूप में दिखाने का प्रयास किया गया है, यह बहुत ही निंदनीय है।