नई दिल्ली । दिल्ली विधानसभा चुनाव में हार के बाद कांग्रेस नेताओं के बीच सिर फुटौव्वल शुरू हो गया है। कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदबंरम ने आम आदमी पार्टी (आप) की जीत खुशी जाहिर की थी। चिदंबरम के इस ट्वीट पर दिल्ली महिला कांग्रेस अध्यक्ष शर्मिष्ठा मुखर्जी ने सवाल उठाया है।
उन्होंने पूछा कि क्या भाजपा को हराने का काम कांग्रेस ने आउटसोर्स किया है क्या? बुधवार को अपने ट्वीट में शर्मिष्ठा मुखर्जी ने लिखा, 'सम्मान के साथ चिदंबरम सर मैं बस जानना चाहती हूं कि कांग्रेस ने राज्यों में भाजपा को हराने का काम आउटसोर्स कर दिया है क्या? यदि नहीं, तो फिर हम अपनी हार के बजाय आप की जीत पर गर्व क्यों कर रहे हैं? और यदि आउटसोर्स कर दिया है, तो हमें (पीसीसी) अपनी दुकान को बंद कर देना चाहिए।'
दिल्ली में आप की जीत पर पी चिदंबरम ने कहा था आप की जीत हुई, बेवकूफ बनाने तथा फेंकने वालों की हार। दिल्ली के लोगों ने भाजपा के ध्रुवीकरण, विभाजनकारी और खतरनाक एजेंडे को पराजित किया है। मैं दिल्ली के लोगों को सलाम करता हूं जिन्होंने 2021 और 2022 में अन्य राज्यों जहां चुनाव होंगे के लिए मिसाल पेश की है। नतीजे आने के बाद शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कांग्रेस की हार में कई सवाल पूछे थे। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा था, 'हम दिल्ली में फिर हार गए। आत्ममंथन बहुत हुआ अब कार्रवाई का समय है। शीर्ष स्तर पर निर्णय लेने में देरी, राज्य स्तर पर रणनीति और एकजुटता का अभाव, कार्यकर्ताओं का निरुत्साह, नीचे के स्तर से संवाद नहीं होना आदि हार के कारण है। इस पूरी प्रक्रिया होने के चलते मैं अपने हिस्से की जिम्मेदारी स्वीकार करती हूं। 
दिल्ली चुनाव में आम आदमी पार्टी ने 62 सीटों पर जीत दर्ज की, जबकि भाजपा के खाते में 8 सीटें आईं। पिछली बार की तरह कांग्रेस इस बार खाता नहीं खोल पाई। कुल 66 (70 में 4 सीटों पर राजद प्रत्याशी चुनाव लड़े) उम्मीदवारों में केवल 3 प्रत्याशी अपनी जमानत बचा पाए। कांग्रेस की 63 सीटों पर जमानत जब्त हो गई।