बेंगलुरु । कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई  ने शनिवार को कहा कि उन्हें कुछ दिनों में कैबिनेट विस्तार पर बीजेपी हाई कमान से निर्देश मिलने की संभावना है। उन्होंने कहा कि इसे अंतिम रूप देने का फैसला केंद्रीय नेतृत्व पर छोड़ दिया गया है। बोम्मई  ने कहा "मैं आज भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से नहीं मिल सका, लेकिन कल उससे मुलाकात की थी। संभावना है कि वे मुझे दो दिनों में संदेश भेजेंगे और मुझे एक बार फिर दिल्ली जाना होगा। इसके बाद हम कैबिनेट को अंतिम रूप देंगे। "
यह पूछे जाने पर कि कैबिनेट विस्तार दो चरणों में होगा, उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि यह नहीं बताया जा सकता है।
बोम्मई दिल्ली की दो दिवसीय यात्रा पर थे, इस  दौरान उन्होंने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, नड्डा, कर्नाटक के केंद्रीय मंत्रियों, सांसदों और मंत्रियों से मुलाकात की थीं। इस बीच, मंत्रिस्तरीय उम्मीदवारों ने नई कैबिनेट में स्थान पाने के लिए लॉबिंग जारी रखी है। इनमें से कुछ दिल्ली में लॉबिंग कर रहे हैं। पार्टी सूत्रों के मुताबिक, रमेश जार्कीहोली, एम पी रेनेकाचार्य और मुनिरथना जैसे कुछ विधायकों ने पूर्व मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा से मुलाकात की है। हावेरी विधायक ओलेकर ने कहा कि उन्हें नए कैबिनेट में अवसर दिया जाना चाहिए, यह उनके निर्वाचन क्षेत्र से पार्टी कार्यकर्ताओं  की इच्छा है।
वरिष्ठ भाजपा नेता और पूर्व मंत्री के एस ईश्वरप्पा ने कहा कि येदियुरप्पा को हटा दिए जाने के बाद उन्हें मुख्यमंत्री बनाया जाना चाहिए था, कम से कम उन्हें अब उपमुख्यमंत्री बनाया जाना चाहिए।