उत्तर प्रदेश के कौशांबी (Kaushambi) से प्रेमजाल में फंसाकर अपहरण व धर्मांतरण (Forced religious conversion) का सनसनीखेज मामला सामने आ रहा है. आरोप है कि यहां एक युवती को दूसरे संप्रदाय के युवक ने प्रेमजाल में फंसाया फिर शादी का झांसा देकर उसका अपहरण कर लिया. इतना ही नहीं आरोपी पर पीड़िता को बंधक बनाने और जबरन धर्मांतरण कराकर किसी अन्य युवक से निकाह कराने का भी आरोप है. पीड़िता के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा लिखकर मुख्य आरोपी समेत 3 युवकों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. पीड़िता की सकुशल बरामदगी करके उसके परिवारजनों को सौंप दिया गया है.

 

 

कोखराज थाना क्षेत्र की युवती को रसूलपुर काजी गांव निवासी मो. अस्सान रजा उर्फ हसन ने अपने प्रेमजाल में फंसा लिया. आरोप है कि अस्सान रजा युवती को शादी का झांसा देकर अगवाकर ले गया. आरोपी उसे मूरतगंज बाजार अपने मामा मोहम्मद अतीक के घर पहुंचा. जहां पर मामा ने दोनों को पनाह दे दी. इसके बाद निकाह करने से पहले युवती पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया जाने लगा.

 

जब युवती ने धर्म परिवर्तन करने से मना किया तो उसे बंधक बना लिया. महीने भर युवती को बंधक बनाकर रखा गया था. आखिर में युवती ने जान बचाने के लिए धर्म परिवर्तन करने का फैसला कर लिया. प्रेमी के बड़े भाई मो. मुस्तफा और मामा मो. अतीक ने धर्म परिवर्तन करा दिया. युवती का आरोप है कि उसकी शादी प्रेमी मो. अस्सान रजा से नहीं कराई गई. बल्कि प्रतापगढ़ जनपद के कुंडा निवासी गुलाम गौस उर्फ रतीभान सरोज से निकाह करा दिया गया.

 

इस युवक ने भी वर्ष 2014 में हिन्दू धर्म छोड़कर मुस्लिम धर्म अपना लिया था. युवती को धमकी दी गई कि यदि किसी को मामले की जानकारी दी तो जान से मार दिया जाएगा. इसके बाद युवती अपनी जान बचाने के लिए गुलाम गौस के साथ निकाह कर कड़ा कोतवाली इलाके के एक गांव में रहने लगी. इधर युवती के परिजनों ने उसकी खोजबीन जारी रखी लेकिन जब वह नहीं मिली तो युवती के भाई ने कोखराज थाने में गुमशुदगी की तहरीर दी. पुलिस ने तहरीर के आधार पर गुमशुदगी का मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी. छानबीन के दौरान पता चला कि रसूलपुर काजी गांव के एक युवक ने अपने भाई और मामा के साथ मिलकर एक युवती का धर्म परिवर्तन कराया था.

 

इसके बाद उसकी किसी दूसरे युवक से शादी करा दी. पुलिस ने जब युवती को बरामद किया तो उसने हकीकत बता दी. जिसे सुनने के बाद पुलिस हरकत में आई और मुख्य आरोपी मोहम्मद अस्सान, उसके बड़े भाई मोहम्मद मुस्तफा और मामा मोहम्मद अतीक को गिरफ्तार कर लिया.पुलिस गिरफ्ता में तीनों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया. उसके बाद उनके खिलाफ धर्म परिवर्तन सहित अन्य गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया है. वहीं युवती का मेडिकल कराया जा रहा है.