न्यूर्याक । कोरोना वायरस के डर ने पूरी दुनिया में लोगों को अपने घरों में कैद कर दिया है। सभी देश अपने नागरिकों को एडवाइजरी जारी की है कि वे भीड़भाड़ वाले इलाकों में न जाएं। वे जरूरत पड़ने पर ही बाहर निकलें और भीड़ वाले इलाकों में जाने से परहेज करें। अमेरिका में कोरोना वायरस से संक्रमण के केस हजारों की संख्या में पहुंच गए हैं, जिसके बाद कई राज्यों, शहरों में बंद जैसे हालात हैं। दुनिया के सबसे बड़े शहरों में गिना जाने वाला न्यूयॉर्क भी इस असर से अछूता नहीं है। न्यूयार्क में थियेटर्स-बार बंद कर दिए गए हैं। अमेरिकी मीडिया के अनुसार, न्यूयॉर्क सिटी मेयर बिल डे ब्लासियो ने रविवार रात ऐलान किया कि शहर की नाइटलाइफ को सोमवार से बंद कर दिया जाएगा। 
कोरोना वायरस की वजह से न्यूयॉर्क प्रशासन ने नाइट क्लब, मूवी थियेटर, कॉन्सर्ट वेन्यू और प्ले को बंद कर दिया है। साथ ही जितने भी रेस्तरां, बार और कैफे हैं, वहां पर भी लोग अब रुक नहीं पाएंगे और अपना सामान घर ले जा सकेंगे। न्यूयॉर्क से इतर अगर पूरे पेनस्लेवेनिया की बात करें तो गवर्नर की ओर से 14 दिनों तक रेस्तरां-बार बंद करने का आदेश जारी किया गया है।
अमेरिका के करीब 3 दर्जन राज्यों ने कोरोना वायरस की वजह से कई तरह की पाबंदियां लगाई गई हैं। इनमें रेस्तरां, स्कूल-कॉलेज और बार बंद किए गए हैं। गौरतलब है कि चीन और यूरोप के बाद अमेरिका में ही कोरोना वायरस के सबसे अधिक मामले सामने आए हैं। अबतक यहां 3400 से अधिक पॉजिटिव केस दर्ज किए जा चुके हैं, जबकि 64 लोगों की मौत हो गई है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोरोना वायरस को नेशनल इमरजेंसी घोषित किया है। अमेरिका ने भी भारत की तरह एक महीने तक ट्रैवल बैन लगाया है, अमेरिका में एक महीने तक यूरोप से कोई सीधी फ्लाइट्स नहीं आएंगी।