वाराणसी। उत्तर प्रदेश के वाराणसी में रिक्शा चलाक मंगल केवट का दिन बन गया। मंगल ने अपनी बेटी की शादी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी न्योता भेजा था। हालांकि, पीएम नरेंद्र मोदी इस शादी में शरीक नहीं हो पाए। रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब वाराणसी पहुंचे तो उन्होंने मंगल केवट को बुलाकर अलग से मुलाकात की। बिटिया-दामाद को साथ न लाने के बारे में भी नरेंद्र मोदी ने मंगल केवट से पूछा। मंगल ने खुद दिल्ली स्थिति प्रधानमंत्री कार्यालय जाकर अपनी बेटी साक्षी की शादी का निमंत्रण दिया था। प्रधानमंत्री ने खत भेजकर वर-वधू को आर्शीवाद भी दिया था। एक रिक्शा चालक को प्रधानमंत्री ने बधाई संदेश भेजा तो खूब सुर्खिंयां भी बनीं। अधिकारियों के जरिए संदेश भेजकर मोदी ने मंगल केवट को बड़ा लालपुर स्थित हस्तकला संकुल बुलवाया। वहां पहुंचने पर पीएम मोदी ने हाथ जोड़कर मंगल केवट का अभिवादन किया और अपने साथ बैठाया। 4 से 5 मिनट की बातचीत में पीएम ने हालचाल जानने के बाद मंगल केवट से पूछा, बिटिया दामाद को नहीं लाए? शादी अच्छे से बीत गई न दामाद कहां काम करता है? उनको मेरा ढेरों आर्शीवाद है।