महोबा जिले के कबरई थाना क्षेत्र के ग्राम बरवई में आपसी कहासुनी के बाद गुस्साए पति ने गर्भवती पत्नी की हत्या कर दी। बाद में ग्लानि में उसने घर में स्वयं फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। 

 

तीन वर्ष पूर्व हुई थी शादी

बरबई निवासी बुद्व प्रकाश अनुरागी का मंझला बेटा अरविन्द उर्फ भूपचन्द्र की शादी तीन वर्ष पहले थाना क्षेत्र के ग्राम बीला दक्षिण निवासी मेडवा अनुरागी की बेटी गोमती के साथ हुई थी। शादी के कुछ दिन बाद पति-पत्नी अलग रहने लगे थे। अरविन्द कबरई में बेल्डिंग का काम करके परिवार का भरण-पोषण करता था। बड़ा भाई जीवन लाल परिवार सहित बाहर काम करता है और छोटा भाई धनीराम अविवाहित है और मां-बाप के साथ अलग रहता है।

 

 

पिता ने देखा मौत का मंजर

मंगलवार को अरविन्द के पिता जब बेटे के घर पहुंचे तो यह देखकर हतप्रभ रह गए। उसका बेटा फांसी पर लटका हुआ था और बहू बिस्तर पर पड़ी थी। पिता ने घटना की सूचना गांव के लोगों के साथ पुलिस को दी।

 

 

शराब और कर्ज बना मौतों की वजह

लोगों के अनुसार, मृतक अरविन्द शराब का आदी था। जिसको लेकर पति-पत्नी में अक्सर विवाद होता था। दूसरी ओर गांव में यह भी चर्चा है कि मृतक ने कुछ लोगों से कर्ज ले रखा था। कर्ज की अदायगी का उस पर दबाव बनाया जा रहा था। हो सकता है कि कर्ज के दबाब में वह यह कदम उठाने को मजबूर हुआ हो।

 

 

कबरई पुलिस ने शुरू की जांच

कबरई पुलिस ने डबल मर्डर की जांच शुरू कर दी है। थानाध्यक्ष दिनेश सिंह ने बताया कि सभी बिन्दुओं पर जांच की जा रही है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के बाद मौतों का सही खुलासा होगा।