नई दिल्ली । कोरोना वायरस महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिनों के देशव्यापी लॉकडाउन का ऐलान किया था। आने वाले 14 अप्रैल को लॉकडाउन की यह अवधि समाप्त हो रही है। ऐसे में लॉकडाउन को आगे बढ़ाने को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हैं। कुछ राज्यों के मुख्यमंत्रियों और सरकार में सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि लॉकडाउन आगे बढ़ सकता है। कई विशेषज्ञों ने भी इसे बढ़ाने का सुझाव दिया है। इस बीच एक सर्वे में जनता ने लॉकडाउन की अवधि को आगे बढ़ाने के पक्ष में दलीलें दीं। वहीं कुछ लोगों ने आंशिक लॉकडाउन पर समर्थन जताया। कुछ ऐसे भी लोग रहे जिन्होंने लॉकडाउन की सीमा बढ़ाए जाने के फैसले से सख्त असहमति जताई।
लोगों ने सुझाव दिया कि लॉकडाउन और 21 दिनों के लिए बढ़ा देना चाहिए लेकिन साथ ही ऑनलाइन ग्रॉसरी और दवाइयों की डिलिवरी की व्यवस्था भी सुनिश्चित किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सभी डॉक्टरों को ऑनलाइन वॉट्सऐप कंसल्टेशन के लिए भी उपलब्ध रहना चाहिए।