उत्तर प्रदेश में संभल जिले में एक सिपाही ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। सिपाही की मौत की खबर लगते ही परिजनों में कोहराम मच गया। जैसे ही घटना की खबर गांव पहुंची, मातम पसर गया। घटना की सूचना मिलते ही परिजन संभल के लिए रवाना हो गए। वहीं मामले में पुलिस ने चौकी पर तैनात हेड कांस्टेबिल और फॉलोअर के खिलाफ हत्या की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया। एसपी ने दोनों को निलंबित कर दिया है।

ये है मामला

जानकारी के मुताबिक, मृतक सिपाही अंकित यादव हयातनगर थाना इलाके की पुलिस चौकी पर तैनात था। मंगलवार दोपहर लगभग साढ़े बारह बजे सिपाही अंकित यादव ने सरकारी पिस्टल से अपने सिर में गोली मारकर खुदकुशी कर ली। पुलिस को मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। मामले की जांच के लिए फोरेंसिक एक्सपर्ट की टीम को बुलाया गया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है. 

बता दें कि अंकित 2015 बैच का सिपाही है और ढ़ाई महीने पहले ही उसका ट्रांसफर हरदोई से संभल हुआ था। पुलिस अधिकारियों घटना की जानकारी उनके परिजनों को दी तो उनके होश उड़ गए। घर में कोहराम मच गया। जवान युवक की मौत की खबर सुनते ही गांव में भी मातम पसर गया। दोपहर के समय अंकित के परिजन संभल के लिए रवाना हो गए। ग्रामीणों के अनुसार अंकित चार दिन पूर्व छुट्टी पर गांव आया था। दो दिन पहले ही वह खुशी-खुशी ड्यूटी पर लौट गया था।

एसपी ने हेड कांस्टेबल और फॉलोअर को किया सस्पेंड

सिपाही के पिता राजवर्धन ने हेड कांस्टेबल व फॉलोअर के खिलाफ हत्या करने का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी है। हंगामा होता देख पुलिस ने हेड कांस्टेबिल देवेंद्र कुमार व फॉलोवर अमित कुमार के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया। एसपी यमुना प्रसाद ने बताया कि हेड कांस्टेबिल और फालोवर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। दोनों को निलंबित कर दिया गया है। आगे की जांच की जा रही है। पिस्टल बरामद कर ली गई है।