संघर्ष किया पर हार नहीं मानी:

मुंबई की प्रग्ना वेदांत ने एक सिंगल कमरे से की थी अपने सैलून की शुरुआत, अब तक 35,000 महिलाओं को दे चुकी हैं ब्यूटीशियन की ट्रेनिंग
मुंबई की प्रग्ना वेदांत एक जानी-मानी ब्यूटी कंसल्टेंट हैं जाे अब तक अपनी एकेडमी में हजारों महिलाओं को ब्यूटीशियन का कोर्स कराकर आत्मनिर्भर बना चुकी हैं। पिछले दिनों उनकी कहानी को ह्युमन्स ऑफ बॉम्बे के फेसबुक पेज पर शेयर किया गया। हालांकि प्रग्ना का ये सफर बिल्कुल आसान नहीं था। 16 साल की उम्र में उनकी शादी हुई। वे अपने पति के साथ बचपन से देखा हुआ ब्यूटीशियन बनने का सपना पूरा करने के लिए मुंबई आ गई। उनके पास रहने को एक कमरा और एक किचन ही था। उन्होंने अपने सिंगल कमरे से सैलून की शुरुआत की। वे यहां थ्रेडिंग और ट्रीमिंग करने लगी। यहां से उन्होंने मेंहदी क्लासेस की शुरुआत भी की।


अपने इसी काम से पैसे बचाकर उन्होंने ब्यूटीशियन के प्रोफेशनल कोर्स किए। ये कोर्स सीखने के बाद उन्होंने अपना सैलून खोला जिसे वे पिछले दस सालों तक सफलतापूर्वक संचालित करती रही। इसी बीच 2005 में महाराष्ट्र में आई बाढ़ में उनका सैलून और घर दोनों बह गया। अपना सब कुछ इस तरह बर्बाद होते देख प्रग्ना को स्ट्रोक आया और वे पैरालाइज्ड हो गई। इसी दौरान उनकी एक आंख की रोशनी भी चली गई। उसके बाद तीन महीने तक उनकी फिजियोथैरेपी हुई और वे व्हीलचेयर के माध्यम से एक बार फिर नई शुरुआत के लिए उठ खड़ी हुई।


अब प्रग्ना ब्यूटी कंसल्टेंट बनी और महिलाओं को ब्यूटीशियन का कोर्स कराने लगीं। अपनी मेहनत और हौसले के बल पर वे एक बार फिर सफल हुई। प्रग्ना ने बताया कि अगर किसी महिला के पास इन कोर्स को करने के पैसे नहीं हैं तो मैं ऐसी महिलाओं को मुफ्त में ब्यूटीशियन बनने की ट्रेनिंग भी देती हूं। वे अब तक 35,000 महिलाओं को ट्रेनिंग दे चुकी हैं।