कमिश्नर ग्वालियर संभाग  तीन सप्ताह में दें जवाब

ग्वालियर जिले के डबरा ब्लाक के ग्राम खेडी रायमल के निवासियों को मुक्तिधाम तक जाने के लिये अपनी जान जोखिम में डालकर नदी पार करने को मजबूर होना पड रहा है। बारिश के दिनों में हालात और भी विकट हो जाते हैं। नदी में उफान आने पर मुक्तिधाम जाने के लिए पानी उतरने का इंतजार करना होता है। इस दौरान पार्थिव शरीर को दो से तीन दिन तक घर में ही रखना पडता है। नदी पर पुल-रपटा निर्माण के लिये क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों और प्रशासनिक अधिकारियों को कई आवेदन-ज्ञापन दिये गये, पर हालात अब भी जस के तस ही हैं। मामले में संज्ञान लेकर मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग ने कमिश्नर ग्वालियर संभाग से तीन सप्ताह में जवाब मांगा है।