राजस्थान के उदयपुर में मारे गए कन्हैया लाल का बुधवार को अंतिम संस्कार किया गया। उनकी मोहम्मद रियाज और गौस मोहम्मद नाम के आरोपियों ने बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने की वजह से गला रेतकर हत्या कर दी थी। कन्हैया लाल की हत्या के विरोध में पूरा शहर बंद रहा। किसी भी स्थिति से निपटने के लिए भारी संख्या में सुरक्षा बलों को तैनात किया गया।

Also Read: Udaipur Murder Case: कन्हैयालाल का हुआ अंतिम संस्कार... पत्नी बोली- हत्यारों को फांसी दो, नहीं तो ये लोग कई लोगों को मारेंगे

कन्हैया लाल की पत्नी ने हत्यारों को फांसी देने की मांग की है। कन्हैया लाल की पत्नी ने कहा कि हम मांग करते हैं कि जिन लोगों ने उनकी (कन्हैया लाल) हत्या की, उन्हें फांसी की सजा दी जानी चाहिए, हम उनकी मौत की सजा की मांग करते हैं और न्याय मांगते हैं।

Also Read: Udaipur Murder: आज जंतर-मंतर पर होगा आतंक के नाश का संकल्प, कपिल मिश्रा बोले- कन्हैयालाल के परिवार की उठाएंगे जिम्मेदारी, देंगे 1 करोड़ की सहायता राशि

पुलिस ने मंगलवार को दोनों आरोपियों मोहम्मद रियाज और गौस मोहम्मद को राजसमंद से गिरफ्तार किया। इनके अलावा, तीन अन्य को भी पुलिस ने हिरासत में लिया। दोनों आरोपियों के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधि (यूएपीए) अधिनियम समेत आईपीसी की कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया।

Also Read: कानपुर: बिरयानी का पतीला लगाकर कब्जाई थी 8 दुकानें, अब मुख्तार बाबा की मुश्किलें बढ़ाएंगी जीनत आजमी, मोर्चा खोलने की तैयारी

सूत्रों के अनुसार कन्हैया के शरीर पर 26 चोट के निशान पाए गए थे, जिनमें से 8 से 10 निशान केवल गर्दन पर थे। इसका जिक्र पोस्टमार्टम रिपोर्ट में किया गया है। दोनों हमलावर कपड़े का नाप देने के बहाने से मंगलवार को कन्हैया की दुकान में घुसे थे। मारे गए दर्जी के रिश्तेदारों ने कहा कि दोनों को फांसी की सजा दी जानी चाहिए, ताकि कोई भी भारत में इस तरह की घटना को अंजाम देने की हिम्मत न कर सके।

Also Read: Udaipur Murder: दर्जी कन्हैयालाल के हत्यारों का पाकिस्तान कनेक्शन, कराची में ली थी 15 दिन की ट्रेनिंग, फोन से मिले 10 पाकिस्तानी नंबर