यूपी में वायरस से संक्रमित पुलिसकर्मियों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। जिसकी वजह से ना सिर्फ पुलिस महकमा बल्कि सीएम योगी भी चिंतित हैं। इसी के चलते अब 112 मुख्यालय में संक्रमण के खतरे की आशंका के चलते वर्क फ्रॉम होम की सुविधा बढ़ाकर आने वाली चुनौतियों से निपटने की तैयारी चल रही है। 112 मुख्यालय ने कॉल टेकर के लिए 200 लैपटॉप का प्रस्ताव शासन को भेजा है। अगर शासन से प्रस्ताव पास हो जाता है तो जल्द ही पुलिसकर्मियों को बड़ी राहत मिल सकेगी।

ये है मामला

प्रदेश में बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों के चलते अब एडीजी असीम अरुण ने ये फैसला लिया है कि कॉल टेकर्स को वर्क फ्रॉम होम की सुविधा दी जाए। इसी के चलते पुलिस विभाग ने गृह सचिव से 200 लैपटॉप मांगे हैं। ये लैपटॉप मिलते ही 112 मुख्यालय में कार्यरत 200 कॉल टेकर अपने-अपने घर से ही अपना काम कर सकेंगी।

किसी भी हालत में बन्द नहीं होगी 112

विभाग ने अपनी यह कोशिशें इसलिए भी तेज कर दी हैं कि क्योंकि कोरोना वायरस का संक्रमण पुलिस बलों के बीच भी तेजी से फैलने लगा है। अब तक तकरीबन 49 पुलिसकर्मी कोरोना से पॉजिटिव आए गए हैं। वहीं अगर 112 में वर्क फ्रॉम होम नहीं मिला तो दिक्कतें काफी बढ़ सकती हैं। क्योंकि पुलिस विभाग किसी भी हालत में अपनी इमरजेंसी सेवा को बन्द नहीं कर सकता।