उत्तर प्रदेश के मेरठ (Meerut) जिले में हलाला (Halala) के नाम पर तीन तलाक पीड़िता के साथ सामूहिक बलात्कार का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पीड़िता के अनुसार, टीपीनगर स्थित एक होटल में हलाला के नाम पर एक मौलाना सरफराज (Maulana Sarfaraz) ने उसका गैंगरेप कराया। महिला ने बताया कि वह अपने शौहर से दोबारा निकाह करना चाहती थी। ऐसे में मौलाना ने उसे हलाला करने के लिए कहा। इसके बाद उसने 2 लोगों को बागपत से बुलाकर हलाला के नाम पर उसका गैंगरेप कराया।

इस मामले में मेरठ के एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि महिला की शिकायत पर तीनों आरोपितों उम्मेद, रियासत और मौलाना सरफराज के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। फिलहाल, मौलाना सरफराज फरार है। पुलिस ने उम्मेद व रियासत को जेल भेज दिया है और मौलाना की तलाश में जुट गई है।



बताया जा रहा है कि लिसाड़ी गेट निवासी महिला का 6 महीने पहले तलाक हो गया था। अब शौहर और बीवी में फिर से एक साथ रहने की सहमति बनी है। लिसाड़ी गेट की शाहजहां कॉलोनी में रहने वाले मौलाना सरफराज से जब उन्होंने इसके लिए पूछा तो उसने बताया कि महिला को पहले हलाला कराना होगा। इसके बाद ही वह अपने शौहर से दोबारा निकाह कर सकती है।

इसके लिए मौलाना सरफराज ने बागपत के दोघट के गांव मिलाना में रहने वाले अपने परिचित हाफिज उम्मेद और रियासत को 24 अक्टूबर को मेरठ बुलाया। रात करीब 9 बजे नूरनगर पुलिस के पास महिला को दोनों आरोपितों के साथ भेज दिया। महिला को बताया गया कि हाफिज निकाह करा देंगे और हलाला होने के बाद सुबह घर वापस आ जाना होगा।

इसके बाद आरोपी उसे लेकर एनएच-58 पर स्थित एक होटल में लेकर पहुंच गए। यहां उन्होंने महिला के साथ गैंगरेप किया। पीड़िता ने होटल से ही अपने मौसेर भाई को इसकी जानकारी दी, जिसके बाद उसके भाई ने पुलिस को रात में ही गैंगरेप की सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया।



रिपोर्ट के अनुसार, मौलाना सरफराज इससे पहले भी हलाला के नाम पर कई महिलाओं का गैंगरेप कर चुका है। वह मूलरूप से मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना का रहने वाला है। मेरठ के लिसाड़ी गेट में वह काफी समय से रह रहा है और टोना-टटका, झाड़-फूंक करता है। पुलिस को प्रारंभिक जांच में कुछ साक्ष्य मिले हैं।