Close X

महराजगंज: ग्रामीण प्रधानमंत्री आवास योजना में धांधली का आरोप

महराजगंज: जहां एक ओर सरकार द्वारा प्रधान मंत्री आवास योजना के तहत गरीबों को छत देकर उन्हें सम्मान से जीवन यापन करने का लाभ दी जा रही है वहीं दूसरी ओर कुछ अधिकारीयों एवं ग्राम प्रधान की मिलीभगत से इस योजना को पलीता लगाने का काम की जा रही है । ऐसा ही एक घोटाले का मामला ग्रामीण प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत विकास खंड निचलौल के ग्राम करवतही उर्फ कटका में सामने आया है। जहां एक ग्रामीण व्यक्ति बुधिराम पुत्र राजदेव के नाम से प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास आवंटित हुआ है और आवास के नाम पर 120000 रूपए निकाल भी लिया गया है बुधिराम पुत्र राजदेव एक गरीब व्यक्ति हैं लेकिन बुधिराम पुत्र राजदेव को जब यह पता चला कि मेरे नाम से आवास आवंटित हुआ है तो वह हक्का बक्का रह गया कि मेरा तो आवास बना ही नहीं और मेरे नाम पर आवंटित आवास का पैसा निकाल लिया गया है और सबसे बड़ी हैरानी इस बात की है कि लाभार्थी बुधिराम पुत्र राजदेव का आज तक किसी भी बैंक में खाता है ही नहीं फिर पैसे की निकासी हुआ कैसे यह सबसे बड़ा जांच का विषय है। ग्राम करवतही उर्फ कटका निवासी बुधिराम पुत्र राजदेव ने बताया कि ग्राम प्रधान व ग्राम विकास अधिकारी के मिली भगत से बहुत बड़ा धांधली किया गया है एक तरफ जहां सरकार गरीबों को आवास उपलब्ध करा रही है वहीं ग्राम प्रधान गरीबों का हक छीन कर अपात्रों को सरकार की योजना का लाभ दे दे रहें हैं। ग्रामीणों ने बताया कि करवतही उर्फ कटका ग्राम में बुधिराम नाम के व्यक्ति एक और हैं जो ग्राम प्रधान प्रतिनिधि के भाई हैं। जो मिली भगत से लाभार्थी के जगह पर ग्राम प्रधान प्रतिनिधि के भाई को आवास आवंटित कर 120000 रुपये की निकासी कराकर निर्माण कार्य करा दिया गया है । जब ग्राम प्रधान से जानकारी ली गयी तो उसने बताया कि जो अपात्र व्यक्ति के नाम पर आवास का निर्माण हुआ है उससे रिकवरी कराकर सरकारी खजाने में भेज दिया गया है लेकिन ग्राम प्रधान प्रतिनिधि द्वारा साक्ष्य नहीं दी गयी। पात्र लाभार्थी बुधिराम पुत्र राजदेव ने कहा कि पूरे मामले की जांच कराते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्यवाही की जाए। रिपोर्ट - भास्कर गुप्ता एमएनटी न्यूज़ ब्यूरो चीफ़ महराजगंज पूरी खबर पढ़ने के लिए लिंक पर क्लिक करें - http://mntnews.in/news.php?id=265790

अन्य वीडियो